IAS क्या है ? IAS Officer के काम क्या होते है और IAS Officer कैसे बने ?

दोस्तों अगर आप एक सरकारी नौकरी करना चाहते हैं और आपने किसी से IAS के बारे में सुना है। लेकिन आपको कोई अंदाजा नहीं है कि IAS क्या है (what is IAS in Hindi) और कैसे आप एक IAS ऑफिसर बन सकते हैं। तो चिंता मत कीजिए आज के इस लेख में आपको IAS क्या है और IAS ऑफिसर बनने के लिए क्या करना होगा इसकी जानकारी मिलेगी।

आज भारत में कई बड़े शहर और जिला है, जहां कई तरह की मुश्किलात लोगों को आती है। ऐसे में इन समस्याओं का निदान करने के लिए किसी व्यक्ति की जरूरत होती है जो पूरे जिले को संभाल सकें।

और यह संभव हो पाता है IAS की वजह से। जी हां हर जिला में IAS का एक पद होता है, जिसमें District Magistrate, district collector और IAS officer का पद होता है।

यही वह IAS ऑफिसर होता है जो किसी जिले की समस्याओं को सुलझाने के काम करता है। यह भारत के सरकारी पदों में से काफी शक्तिशाली पद होता है। भारत में इस पद को पाने के लिए लगभग 10 लाख से ज्यादा युवा Apply करते हैं। जिसमें से कुछ ही इसमें सफलता हासिल कर पाते हैं।

अगर आप भी एक IAS ऑफिसर बनना चाहते हैं, तो आपको सबसे पहले पता होना चाहिए कि IAS होता क्या है। IAS क्या है जानने से पहले IAS का Full Form जान लीजिए।

IAS Full Form – Indian Administrative Service

IAS क्या है ?

IAS एक ऐसी भारतीय सर्विस है, जिसमें भारतीय विदेश सेवा और भारतीय पुलिस सेवा का समावेश है। IAS सेवा का गठन सन् 1946 मैं हुआ था। IAS सेवा लागू होने से पहले भारतीय Imperial सेवा लागू थी।

दोस्तों अभी हमने जाना कि IAS क्या है और अब तक आपको थोड़ा बहुत समझ आ गया होगा कि IAS बनना इतना आसान नहीं।लेकिन चिंता मत कीजिए आपको प्रोत्साहित करने के लिए आगे हम IAS ऑफिसर के काम कौन से हैं और उसकी Salary कितनी होती है यह जानेंगे।

IAS Officer का काम क्या होता है ?

आपको बता दूं कि IAS ऑफिसर का काम उसे दिए गए क्षेत्र की देखरेख करना होता है। IAS अधिकारी के दिए गए क्षेत्र में कानून और व्यवस्था को बरकरार रखने का कार्य और जिम्मेदारी IAS ऑफिसर की होती है।

IAS अधिकारी के काम :-

  • कानून और व्यवस्था को बरकरार रखना।
  • Executive magistrate के कार्य।
  • Chief Development Officer और District Development Commissioner के काम।
  • नीति निर्माण और निर्णय लेने के कार्य।
  • राज्य सरकार और केंद्र सरकार की नीतियों को Implement करने के काम।

IAS अधिकारी की Salary कितनी होती है ?

दोस्तों IAS कैडर को 8 ग्रेड में बांटा गया है। जो कि जूनियर सेक्रेटरी से लेकर कैबिनेट सेक्रेटरी तक है। यहां हर एक ग्रेड के लिए बेसिक पे और ग्रेड पे अलग होती है।

IAS अधिकारी को सैलरी के साथ कुछ और सुविधाएं दी जाती है। जैसे कि DA (Dearness Allowance), HRA (House Rent Allowance), Conveyance Allowance, Medical Allowance, और भी कुछ अन्य सुविधाएं दि जाती हैं।

आपको बता दूं कि जिन IAS अधिकारी को सरकारी आवास प्रदान किया जाता है। उन्हें House Rent Allowance नहीं दिया जाता।

IAS अधिकारी को जो DA दिया जाता है वो अलग अलग होता है। यह ज्यादातर हर एक शहर के क्लास पर निर्भर करता है। जैसे क्लास A शहर के लिए DA ज्यादा दिया जाता है तो क्लास C के शहर के लिए कम दिया जाता है।

IAS अधिकारी को जो House Rent Allowance दिया जाता है। यह उसकी बेसिक सैलरी के 8 से 24 प्रतिशत होता है। इसे सरकार महँगाई के मुताबिक बदलती रहती है, यह तय नहीं होता। तो चलिए अब जानते हैं कि IAS अधिकारी के ग्रेड के तहत सैलरी क्या होती है।

Grade Basic Pay Grade Pay
Junior Scale 50,000 – 1,50,000 16,500
Senior Time Scale 50,000 – 1,50,001 20,000
Junior Administrator Grade 50,000 – 1,50,002 23,000
Selection Grade 1,00,000 – 2,00,000 26,000
Super Time Scale 1,00,000 – 2,00,000 30,000
Above Super Time Scale 1,00,000 – 2,00,000 30,000
सर्वोच्च Scale 2,40,000
Cabinet Secretary Grade 2,70,000

 

दोस्तों अगर आपको यह समझने में परेशानी हो रही है, कि आखिर ग्रेड पे क्या है और बेसिक पे क्या है। तो चलिए इसे किसी उदाहरण से समझते हैं।

देखिए जैसे कि हर ग्रेड के लिए अलग ग्रेड पे है। तो समझ कर चले कि हमारा ग्रेड जूनियर स्केल ग्रेड है और मेरी बेसिक पे पहले साल में 50000 है और ग्रेड पे 16500 है।

अब होगा क्या कि जूनियर स्केल के लिए जो बेसिक पे है वह 150000 के ऊपर नहीं जाएगा। मतलब जैसे-जैसे मेरी इंक्रीमेंट होगी तो मेरी बेसिक पे 50000 से लेकर 150,000 के बीच ही रहेगी।

अब मेरे बेसिक पे में ग्रेड पे और DA को जोड़ा जाएगा ताकि मेरी ग्रॉस सैलेरी बनाई जा सके। जैसा कि हमने जाना था कि DA शहर के मुताबिक होता है। तो मानकर चलते हैं कि मेरा DA ₹10000 है। तो मेरी ग्रॉस सैलरी कुछ इस तरह बनेगी।

Monthly salary = Basic Pay + Grade Pay + DA

= 50000 + 16500 + 10000

= 76500

याने अगर मैं एक IAS अधिकारी हूं जिसका grade junior scale है। और अगर मेरा बेसिक पे 50000 और DA 10000 है तो मेरी महीने की सैलरी होगी 76500।

तो दोस्तों अब तक हमने जाना IAS अधिकारी के काम और उसके सैलरी के बारे में और अब हम जानते हैं कि कैसे आप एक IAS अधिकारी बन सकते हैं।

IAS Officer कैसे बने ?

IAS अधिकारी बनने के लिए आपको नीचे दिए स्टेप्स को फॉलो करना होगा।

  1. सबसे पहले अपनी Eligibility चेक करें।
  2. IAS की परीक्षा के लिए अप्लाई करें।
  3. UPSC की परीक्षा पास करें।

1. Check Qualifications And Requirements

IAS अधिकारी बनने के लिए सबसे पहला कदम होता है अपने eligibility को चेक करना। क्योंकि अगर आप IAS परीक्षा के लिए eligibile नहीं है तो आप IAS अधिकारी नहीं बन सकते।

IAS बनने के लिए Qualification / Requirement नीचे दिए गए।

  • आप भारत, भूटान या फिर नेपाल के नागरिक होने चाहिए।
  • आपकी उम्र कम से कम 21 साल की होनी चाहिए।
  • आप ग्रेजुएट होने चाहिए, आप किसी भी विषय में graduation कर सकते हैं।
  • आपकी उम्र तय किए गए उम्र से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। Exam देने के लिए maximum age caste और disability category के अनुसार रखी गई है।
  • अगर आप परीक्षा में फेल होते हैं तो आप सिर्फ निर्धारित numbers के लिए फिर से परीक्षा दे सकते हैं।

IAS के परीक्षा के लिए maximum age limit और attempts limit की जानकारी आपको नीचे दी गई है।

Regular Candidate

Categories Age Limit Attempts Limit
General 32 6
OBC 35 9
SC 37 No Limit
ST 37 No Limit

 

Physically Handicap Candidate

Categories Age Limit Attempts Limit
General 42 9
OBC 42 9
SC 42 No Limit
ST 42 No Limit

Jammu & Kashmir Candidate

Categories Age Limit Attempts Limit
General 37 No Limit
OBC 40 No Limit
SC 42 No Limit
ST 42 No Limit
Physically Handicap 50 No Limit

2. Apply For IAS Exam

अगर आप IAS के परीक्षा के लिए eligible है तो फिर आपको अब UPSC के Exam के लिए अप्लाई करना होगा। जी हां UPSC ही IAS और IPS जैसे परीक्षाओं का आयोजन करता है।

अगर आप IAS ऑफिसर बनना चाहते हैं तो आपको UPSC की Exam देनी होगी। UPSC की परीक्षा को भारत के सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है।

जब आप UPSC के परीक्षा के लिए apply करेंगे, तो उसके बाद आपको तीन तरह की परीक्षा देनी होगी। जिसमें से सबसे पहली परीक्षा है preliminary exam, दूसरी है main Exam और तीसरी परीक्षा एक Interview Round होता है।

अगर आप इन तीनों परीक्षाओं मैं उत्तीर्ण हो जाते हैं तो आपको IAS अधिकारी बना दिया जाता है।

3. UPSC की परीक्षा पास करें

UPSC के लिए अप्लाई करने के बाद आपको सबसे पहले Preliminary Exam को पास करना होगा। इस Exam में आपको दो पेपर देने होते हैं।

यह दोनों पेपर 200-200 marks के होते हैं। इस परीक्षा में आपको संक्षिप्त में उत्तर नहीं देने होते। इस पेपर में आपको Objective सवाल पूछे जाते हैं।

इन पेपर को हल करने के लिए आपको दो-दो घंटे का समय दिया जाता है। अगर आप Preliminary परीक्षा पास करते हैं तो आगे आपको Main Exam देनी होती है।

Preliminary परीक्षा उत्तीर्ण होने के बाद आपको Main Exam के लिए 2 से 3 महीने का समय दिया जाता है। उसके बाद आपकी Main Exam शुरू होती है।

इस परीक्षा में आपको Objective सवाल नहीं पूछे जाते। बल्कि यहां आपको अलग-अलग सीमा के वाक्यों में सवालों के जवाब देने होते हैं।

जब आप preliminary और main Exam पास कर जाते हैं, तो आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। यह IAS अधिकारी बनने की आखिरी परीक्षा है। इस परीक्षा में आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है, जो कि पूरे 45 मिनट तक चलता है।

यहां पर आपको जाचा जाता है और आपसे सवाल पूछे जाते हैं। अगर आप इस में सफल हो जाते हैं तो समझ लीजिए कि अब आप एक IAS अधिकारी बन चुके हैं।

इसे भी पढ़े :- PhD क्या है ? PhD किसे करनी चाहिए और PhD कैसे करे ?


दोस्तों इस तरह से आपको इन सब स्टेप्स को फॉलो करना है। IAS ऑफिसर बनने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी है तभी आप सफलता हासिल कर पाएंगे।

अगर आपको IAS क्या है और IAS कैसे बने (how to become IAS Officer In Hindi) यह इस लेख के माध्यम से समज आया है तो इसे अपने दोस्तों के साथ share करे ताकि उनको भी IAS के बारे में जानकारी मिल सके।

2 thoughts on “IAS क्या है ? IAS Officer के काम क्या होते है और IAS Officer कैसे बने ?”

Leave a Comment